मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना 21 जनवरी से शिर्डी जाएंगे

CM Teerth Darshan Yojana 2023: मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना 21 जनवरी से शुरू होकर तीन अप्रैल तक जारी रहेगी। छतरपुर जिले से 348 पात्र एवं इच्छुक श्रद्धालु शिर्डी दर्शन के लिये दो फरवरी को जाएंगे। श्रद्धालु के साथ सुरक्षाकर्मी एवं चिकित्सक भी रहेंगे। सीएम तीर्थ दर्शन की प्रस्तावित योजना में पात्र एवं इच्छुक श्रद्धालुजनों से विधिवत प्रारूप में भरे आवेदन 21 जनवरी तक प्राप्त करें। इस योजना को मध्य प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के वरिष्ठ नागरिकों को निशुल्क तीर्थ यात्रा प्रदान करने के लिए आरंभ किया गया है। इसमें प्रदेश के 60 वर्ष से ज्यादा आयु के नागरिक निशुल्क तीर्थ यात्रा का लाभ उठा सकते हैं। सभी नागरिकों को यात्रा के दौरान सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी।

यात्रा के लिए आवेदन ऐसे करें

यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन पत्र डाउनलोड करना होगा। फिर आवेदन पत्र तहसील या फिर उप तहसील कार्यालय में जमा करना होगा। आवेदन पत्र जमा करने के बाद आपकी पात्रता का सत्यापन किया जाएगा। सत्यापन के बाद आप के आवेदन पत्र को मंजूरी मिल जाएगी। जिसके पश्चात आप तीर्थ यात्रा कर सकेंगे।

इन्‍हें मिलेगी दो साल की छूट

योजनांतर्गत मध्यप्रदेश के वरिष्ठ नागरिक जिनकी उम्र 60 वर्ष या अधिक है, जो आयकरदाता नहीं हैं। इस योजना के लिए पात्र होंगे। महिलाओं को न्यूनतम 60 वर्ष की उम्र में दो वर्ष की छूट मिलेगी।

इन कागजातों की होगी ज़रूरत

आवेदक को दो प्रतियों में आवेदन भरना होगा। इसमें नवीनतम पासपोर्ट साइज का फोटो, पहचान दस्तावेज के रूप में आधार कार्ड या मतदाता पहचान पत्र की छायाप्रति प्रस्तुत करनी होगी। श्रद्धालु के साथ यदि जीवनसाथी साथ में जा रहे है तो आवेदक के साथ जीवनसाथी का नाम सम्मिलित करना होगा। ऐसे आवेदक जिनकी उम्र 65 वर्ष या अधिक है, जो सहायक को साथ ले जाना चाहते हैं तो सहायक का आवेदन पृथक से भरना होगा।

वैक्‍सीनेशन का सर्टिफिकेट अनिवार्य

सहायक की आयु 18-50 से वर्ष होनी चाहिए। यात्री को कोविड वैक्सीनेशन सटिर्फिकेट की छायाप्रति रखना अनिवार्य है। अपर कलेक्टर प्रताप सिंह चौहान ने तहसीलदार, सीईओ जनपद पंचायत और सीएमओ नगरपालिका एवं नगर पंचायत को प्रेषित पत्र में निर्देशित किया है।

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के अंतर्गत उपलब्ध सुविधाएं

विशेष रेल से यात्रा

खाने-पीने की सामग्री

रुकने की व्यवस्था

जहां आवश्यक है वहां बस से यात्रा

गाइड एवं अन्य सुविधाएं

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य मध्य प्रदेश के वरिष्ठ नागरिकों को निशुल्क तीर्थ यात्रा पर जाने का अवसर प्रदान करना है। मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के अंतर्गत लाभार्थी देश में उपलब्ध तीर्थ स्थल में से किसी एक तीर्थ स्थल पर निशुल्क तीर्थ यात्रा कर सकते हैं। मध्य प्रदेश सरकार ने मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना का आरंभ किया है। तीर्थ यात्रा पर जाने के लिए वह अपने साथ एक सहायक को भी ले जा सकते हैं।

योजना के अंतर्गत उपलब्ध तीर्थ स्थल

(अ) परिशिष्ट (एक) –

श्री बद्रीनाथ

श्री केदारनाथ

जगन्नाथ पुरी

श्री द्वारकापुरी

हरिद्वार

अमरनाथ

वैष्णोदेवी

शिर्डी

तिरुपति

अजमेर शरीफ

काशी (वाराणसी)

गया

अमृतसर

रामेश्वरम्

सम्मेद शिखर

श्रवणबेलगोला

वेलाकानी चर्च (नागपट्टनम )

(17-अ) श्री रामदेवरा, जेसलमेरगंगासागर

कामाख्या देवी

गिरनार जी

पटना साहिब

मध्य प्रदेश के तीर्थ स्थल – उज्जैन, मेहर, श्री रामराजा मंदिर ओरछा, चित्रकूट, ओंकारेश्वर, महेश्वर और मुडवारा|

(ब) परिशिष्ट (दो) –

रामेश्वरम् – मदुरई

तिरुपति – श्री कालहस्ती

द्वारका – सोमनाथ

पूरी – गंगासागर

हरिद्वार – ऋषिकेश

अमृतसर – वैष्णोदेवी

काशी – गया|

योजना में कलेक्टर द्वारा की जाने वाली व्यवस्था

– पत्र प्राप्त करवाना

– यात्रियों का चयन करना

– शासकीय अधिकारी/कर्मचारी की अनुरक्षक के रूप में ड्यूटी करना।

– यात्रा के लिए सुरक्षा कर्मी की तैनाती करना।

– स्वास्थ्य परीक्षण के लिए चिकित्सक की व्यवस्था करना।

– यात्रियों का टिकट वितरण करवाना।

– यात्रियों को प्लेटफार्म से विशेष ट्रेन में बैठाना।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *